Ramya ki Chut me Piche Se Lund Dala-रम्या की चूत में पीछे से लंड डाला

Ramya ki Chut me Piche Se Lund Dala-रम्या की चूत में पीछे से लंड डाला

हाय दोस्तों यह कहानी मै अपने दोस्त की जुबानी लिख रहा हु आशा करता हूँ आप लोगो को जरूर मजा आएगा  मेरा नाम संजय है और मैं राजस्थान का रहने वाला हूँ। मैं एक इंग्लिश की ट्यूशन में पढ़ाता हूँ। Piche Se Lund Dala

मैं २५ साल का एक कुँवारा नौजवान हूँ। मैं दिखने में गोरा और लम्बा हूँ। मैं कुछ समय पहले अपने पड़ोस में रहने वाली दूर के रिश्ते में लगने वाली मौसी की छोटी लड़की, जिसका नाम रम्या था, उसे पढ़ाने मैं हर शाम जाता था। वह अट्ठारह साल की थी और दिखने में ख़ूबसूरत थी, उसकी चूचियाँ अपेक्षाकृत काफी बड़ी थीं, जिन्हें देखकर मेरा लंड खड़ा हो जाता था और उसे चोदने का भी मन करता था।

मैं उसके भाई को पढ़ा करक अक्सर कमरे से बाहर आ जाता और रम्या से बातें किया करता था।
मुझे पता ही नहीं चला कि हम दोनों में कब प्यार हो गया और अब हम एक-दूसरे से फोन पर ढेर सारी बातें किया करते थे। रम्या से मैं बातें करते हुए कभी उसके हाथ पकड़ लेता तो कभी उसके गले में हाथ डालकर उसकी चूचियाँ छूता, तो कभी उन्हें दबा भी देता था। लेकिन रम्या इन सब के लिए कुछ भी नहीं कहती थी और मुस्कुरा देती थी।

अक्सर उसकी चूचियों की गोलाईयों को छू कर मेरा मन बेक़ाबू हो उठता था। कभी-कभी मैं उसकी चूचियों को उसके कपड़ों से बाहर निकाल कर देर तक चूसता रहता था, तो कभी उसके कुर्ते में अपना हाथ डाल कर ब्रा के ऊपर से ही तो कभी अन्दर हाथ डालकर उन्हें दबाता था। कभी तो उसकी चूत में अपनी ऊँगली डालकर रम्या की सिसकियाँ निकाल देता था। सच दोस्तों, उन हसीन पलों को मैं कबी नहीं भूल सकता हूँ। रम्या एक कच्ची कली थी जिसका मैं मज़ा ले रहा था।  Piche Se Lund Dala

ये भी सेक्स स्टोरी पढ़ें -  Dost ki Biwi ko Choda Kitchen me- दोस्त की बीवी को चोदा किचन में

एक दिन सुबह जब मैं अपने घर से बाहर किसी काम से बाहर गया था तो मेरे पास रम्या का फोन आया और वह कहने लगी कि आज उनके घर पर कोई भी नहीं है और वह नहाने जा रही है। यह सुनकर मेरे मन में रम्या के नहाने वाली बात को सुनकर उसकी नंगी तस्वीर नज़र आने लगी और मैं उसे चोदने का विचार बनाने लगा।

मैंने सोचा कि आज मौक़ा है, पता नहीं कब मिले। मैं तुरन्त ही अपने काम को खत्म करके रम्या के घर रवाना हो गया। जब मैं रम्या के घर पहुँचा तो घर में उसकी सहेली थी। मैंने उससे पूछा कि रम्या कहाँ है तो उसने कहा कि वह तो बाथरूम में नहा रही है। यह सुनकर मेरा लंड और भी तेज़ी से खड़ा हो गया और मन ही मन उसके चोदने के ख्याली पुलाव बनाने लगा। मैंने रम्या की सहेली से कहा कि मैं तो घर जा रहा हूँ।

यह कह मैं उसके घर से बाहर आ गया और क़रीब पाँच मिनट बाद मैं वापस गया तो रम्या की सहेली कमरे में थी और मैं चुपचाप बाथरूम में चला गया। वहाँ मैंने देखा कि रम्या बिल्कुल नंगी थी, उसने केवल पैन्टी ही पहनी थी और उसके चेहरे पर साबुन लगा था।
उसका नंगा बदन देखकर मैं दंग रह गया। उसकी चूचियाँ इस तरह मेरे सामने थीं कि मानो मुझे अपनी वासना बुझाने के लिए आमन्त्रित कर रहीं हों। मैं रम्या के पास जाकर साबुन उठाकर उसके गोरे जिस्म पर मलने लगा। रम्या घबरा गई और फटाफट अपना मुँह धोते हुए पूछने लगी कि कौन है? तो मैंने बताया कि मैं हूँ तेरा यार.. और आज तुझे असली मज़ा दूँगा।

ये भी सेक्स स्टोरी पढ़ें -  Bali Umar Ka Pyar ki Kahani-बाली उम्र का प्यार की कहानी

रम्या ने कहा, उसकी सहेली आ जाएगी, तो मैंने कहा कि अगर वह आ गई तो वह भी हमारे साथ इस ज़न्नत का मज़ा ले लेगी। यह कहते हुए मैंने उसकी दोनों चूचियों को पकड़ लिया और होंठों को पागलों की भाँति चूमने लगा। फिर उसकी चूचियों को बारी-बारी से चूसने लगा। रम्या की चूचियाँ छोटी थीं लेकिन उन्हें दबाने-चूसने में बड़ा मज़ा आ रहा था। अब रम्या धीरे-धीरे गरम हो रही थी। उसने अपने ही हाथों से अपनी पैन्टी हटा दी और मेरे सिर को पकड़कर अपनी चूत चटवान लगी और कहने लगी – “चाटो… आआआहहहहहह… आआआआहहहह…. शशशस्स्ससस्सस….”

मैं अपनी जीभ से उसकी चूत को चाट रहा था। कभी उसकी जाँघों को चाटता तो कभी उसकी चूत में ऊँगली अन्दर-बाहर करता। उसकी चूत पर छोटे-छोटे बाल थे. वह मेरे सिर को पकड़कर अपनी चूत इस तरह से चटवा रही थी कि मानों उसका बस चले तो मेरा सिर चूत के अन्दर ही डाल दे।  Piche Se Lund Dala

अब मेरा लण्ड भी बाहर आने को तड़प रहा था और अपने बिल में घुसने को बेक़रार था। मैंने भी अपने कपड़े उतार दिए और अपना लंड रम्या के हाथ में दे दिया और चूसने के लिए कहा तो रम्या शरमाने लगी। मैंने उससे कहा कि तुम इसे मस्त करोगी तभी ये तुम्हें पूरा-पूरा मज़ा देगा। तब रम्या ने मेरा लण्ड चूसना शुरु किया। थोड़ी ही देर बाद मैंने रम्या को फर्श पर लिटाकर उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया। वह दर्द के मारे चिल्ला पड़ी। उसे काफ़ी दर्द हो रहा था। वह लंड निकालने को कहने लगी। लेकिन मैं कहाँ मानने वाला था, मैं उसकी चूचियों को पकड़कर उसके होंठों को चूमने लगा और धीरे-धीरे अपना लंड उसकी चूत में अन्दर-बाहर करने लगा। थोड़ी ही देर बाद मेरा लंड आधे से ज्यादा रम्या की चूत के अन्दर चला गया। उसे भी पूरा मज़ा आने लगा।  Piche Se Lund Dala

ये भी सेक्स स्टोरी पढ़ें -  Vakil Ne Bua ki Blouse Kholi-वकील ने बुआ की ब्लाउज खोली

मैं बीच-बीच में रम्या की चूचियाँ भी चूस रहा था। बाद में मैंने रम्या को दीवार के सहारे खड़ा करके पीछे से उसकी चूचियाँ पकड़कर उसकी चूत में पीछे से लण्ड डाल दिया। अब मैं उसकी ज़ोरों से चुदाई कर रहा था। इस मस्ती में हम भूल ही गए थे कि उसकी सहेली भी पास वाले कमरे में ही है।

रम्या को चोदते हुए मेरे हाथ कभी उसकी चूचियों तो कभी उसकी चूत को सहला देते थे। इस बीच रम्या झड़ चुकी थी। मैं भी क़रीब बीस मिनट बाद झड़ गया और अपना सारा माल रम्या के मुँह में डाल दिया।

Chudai ki garm Kahani – Bali Umar Ka Pyar ki Kahani-बाली उम्र का प्यार की कहानी

तभी रम्या की सहेली की आवाज़ आई कि वह घर जा रही है। यह सुनकर हम दोनों खुशी से झूम उठे। हम दोनों काफी देर तक साथ रहे, नहाया और बाद में उसे अपनी बाँहों में उठाकर कमरे में बिस्तर पर लिटा दिया। वहाँ जाकर रम्या मेरे लंड चूसने लगी, तभी मुझे एक ब्लू-फिल्म का एक दृश्य याद आया जिसमें पुरुष अपने लंड को लड़की की चूचियों के बीच की दरार में रखकर उसे आगे-पीछे करता है। मैंने भी ठीक उसकी तरह रम्या की चूचियों के बीच में अपना लंड रखकर उसे आगे-पीछे किया और बहुत देर तक उसकी चूचियों से खेलता रहा। उस दिन मैंने रम्या को पाँच बार चोदा।

उस कच्ची कली को फूल बना कर मैं उसे ‘आई लव यू’ कहकर अपने घर वापिस आ गया।

Ye Sex Story Ramya ki Chut me Piche Se Lund Dala kaisi lagi…

Leave a Comment