Bhabhi ki Kankh Ko Chata -भाभी की कांख को चाटा

Bhabhi ki Kankh Ko Chata -भाभी की कांख को चाटा

अनिता भाभी मेरी वाइफ की दोस्त है, करीब ३२ साल की औरत गजब की सुंदरता है उसमे, उसका शरीर की बनावट बहुत ही उम्दा है, गोरी लम्बी उनका बूब टाइट टाइट और गांड का उभार और होठ रशिली, गाल उनका तो ऐसा लगता है जैसे की अंगूर का रस भरा हुआ है, मैं तो धन्य हु क्यों की मुझे चोदने का मौक़ा मिला वो भी मेरे बर्थडे के दिन. Bhabhi ki Kankh

मेरी वाइफ मार्किट गयी हुई थी, मेरे लिए गिफ्ट लाने के लिए तभी अनिता भाभी का फ़ोन आया की मैं आना चाह रही हु थोड़ा पहले क्यों की मेरे हस्बैंड आज बाहर जा रहे है, मैं अकेले बोर हो जाउंगी इसलिए, मैंने उनको कहा अभी आप कहा हो, तो वो बोली मैं तो रोड पे वेट कर रही हु, वो जहा पर थी मेरे घर से करीब ४ किलोमीटर का दूरी था, मैंने कहा ठीक है आप ५ मिनट रुको मैं आ रहा हु, और मैं अपने कार उनको पिक कर लिया.

जब वो घर आयी तो देखि मेरी वाइफ नहीं है तो पूछी मैंने बता दिया वो एक घंटे तक आ जाएगी, फिर वो हाथ फैलाकर बोली हैप्पी बर्थडे और मुझे गले से लगा लिया कमाल का एहसास था, उनका चूच मेरे साइन से सट रहा था, मैंने भी उनको बाहों में भरकर उनको थैंक्स कहा और करीब १ मिनट तक वैसे ही रहा, मेरा लंड खड़ा होने लगा था, Bhabhi ki Kankh

मैंने मैंने थोड़ा अलग होकर उनको देखा वो मुझे देख रही थी और पता नहीं मुझे क्या हुआ की मैंने अपना होठ उनके होठ की तरफ बढ़ाया किश करने के लिए और ऐसा लग रहा था की वो भी इंतज़ार कर रही थी, और थोड़ा वो आगे बढ़ी और थोड़ा मैं, होठो का मिलान हो गया, करीब ५ मिनट तक डीप किश करने के बाद मेरा हाथ सरका उनके पीठ होते हुए ब्रा का हुक को महसूस करते हुए, उनके दोनों चूतड़ पे पहुंच गया और मैंने थोड़ा अपने तरफ दबाया और उनका बूर सारी के ऊपर से ही मेरे लंड के पास आ गया, वो बोली बड़े सेक्सी हो, बोला हां इसमें कोई शक नहीं, फिर वो एक किश और दी फिर अपना जीभ मेरे मुह में दाल दिया मैंने उनका बाल पकड़ा और अपने और उनके होठ को सटाया, फिर मैंने उनको थोड़ा पीछे करते बेड पे बैठाया और लिटा दिया. Bhabhi ki Kankh

ये भी सेक्स स्टोरी पढ़ें -  Bhabhi ki Chut ki baal -भाभी की चूत की बाल

मैंने अपने वाइफ को फ़ोन किया की कहा हो तो वो बोली मुझे तो मार्किट अभी जाना है, मैं अभी सारिका के घर पे हु, वो भी जाएगी इस्सलिये मैं उसका वेट कर रही हु, अभी २ बजे है मैंने ४ बजे तक आ जाऊँगी. मैंने फ़ोन रखा और भाभी का ब्लाउज का हुक खोल दिया और पीछे से ब्रा का भी मेरे सामने दो रसीले चूच हाज़िर था, मैंने चूसना शुरू कर दिया, वो भी चुसवा रही थी, फिर वो बोली इसे क्या चूस रहे हो, चूसना है तो मेरे रशीले बूर के चूसो, और साड़ी ऊपर कर दी, मैंने उनका पेंटी उतारी और दोनों जांघो के बीच में अपना मुह रखकर उनके बूर को चाटने लगा, वो आह्ह उह्ह्ह्ह्ह इस्स्स्स आऊच इस तरह की आवाज़ निकाल रही थी, फिर मैंने उनके गांड में ऊँगली दाल दी, वो बहुत ही कामुक हो गयी, Bhabhi ki Kankh

मैंने अपना लंड निकाला और उनके मुह में दाल दिया वो चूसने लगी मैं उनके बूब को दबा रहा था और वो मेरे लंड को चूस रही थी, इस तरह से ये सिलसिला करीब १० मिनट तक चला फिर मैंने अपने लंड को उनके रशीले बूर में दाल दिया और चोदने लगा वो भी अपना गांड उठा उठा के चुदवाने लगी, मैंने झटके पे झटके दे रहा था, वो भी अपना गांड उठा उठा के चुदवा रही थी,

Chudai sex Story Dost ko Choda Ragad ke-दोस्त को चोदा रगड़ के

मैंने उनके कांख को चाटने शुरू कर दिया वो अपना दोनों हाथ ऊपर कर दी, फिर तो वो और भी हॉट लगने लगी फिर मैंने उनको बोला डॉगी स्टाइल में चोदते है वो तरन्त घुटने के बल पे बैठ गयी पीछे से उनका गांड और चूतड़ काफी सेक्सी और बड़ा बड़ा लग रहा था मैंने बूर में फिर पीछे से लौड़ा घुसाया और धक्का देने लगा उनका दोनों चुचिया झूल रहा था और मेरे लंड के झटके से हिलोरे ले रहा था फिर वो काफी सेक्सी हो गयी और मैंने भी पुरे जोश में था, बहुत तेज चुदाई चल रही थी और फिर एक समय आया की मेरा सारा वीर्य उनके बूर में पिचकारी के तरह चला गया और वो शांत हो गयी, फिर हम दोनों ने किश किया और वो अपने कपडे फिर से पहन ली और हम दोनों सोफे पे बैठ के टीवी देखने लगे.

ये भी सेक्स स्टोरी पढ़ें -  Dost ki Bahan Ki Gand Mar Li-दोस्त की बहन की गांड मार ली

Ye Sex story Bhabhi ki Kankh Ko Chata kaisi lagi…

Leave a Comment